Thursday, September 6, 2012

घर से स्कूल तक का मेरा रास्ता

यह हैं हमारी नीलूपमा के घर से उसके स्कूल तक रास्ता !!!  यह चित्र हमें नीलूपमा ने २०१० के चकमक अंक के लिए भेजा था | हर माह हम बच्चो की रचनाओ को प्रकाशित करते हैं, और उन्हें उपहार में चकमक के छः माह तक के अंक मुफ्त में देते हैं | आप भी हमें अपनी रचनाये भेज सकते हैं और पा सकते है चकमक के छः माह के अंक मुफ्त |

No comments:

Post a Comment